Awareness and Solution for common problems, Benefits of Yoga and Pranayam.

हार्ट को हेल्थी कैसे बनायें, हार्ट को स्ट्रांग बनायें , Yoga & Exercise for Healthy Heart

आज कल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हर कोई किसी न किसी बीमारी से परेशान है जिसमे हार्ट की समस्या एक प्रमुख बीमारी है, इसका मुख्य कारण खाने पीने की गलत आदत, शराब, सिगरेट आदि का सेवन, ज्यादा वसायुक्त खाना, कोई फिजिकल एक्टिविटी न करना, ज्यादा टेंशन लेना आदि बहुत सारे कारण हो सकते तो आज हम विस्तार में इस पर चर्चा करेंग और जानेंगे कि हार्ट को स्वस्थ और स्ट्रांग रखने में क्या क्या करें और क्या क्या ना करें.

Heart
Heart

फाइबर युक्त खाना खाएं:

राजमा, दाल, टमाटर, गाजर, ब्रॉकली, चुकंदर, केला, दलिया, सेम, सेब, नींबू, नाशपाती, अनानास आदि मे फाइबर होते हैं, फाइबर युक्त खाना, किसी भी दिल-स्वस्थ आहार का एक महत्वपूर्ण तत्व है। फाइबर में उच्च आहार खाने से Low-density Lipoprotein(LDL) कोलेस्ट्रॉल को कम करके कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करता है.
इसलिए अपने हार्ट को स्वस्थ रखने के लिए फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ  को अपने भोजन में जरूर शामिल करें .

 ज्यादा वसा युक्त पदार्थ खाने से परहेज करें:

बाजार में मिलने वाले अधिकतर खाने की चीजे जैसे बर्गर पिज़्ज़ा, समोसे आदि हार्ट के लिए बहुत नुक्सान पहुंचाते है इसलिए इनका उपभोग कम से कम करना चाहिएऔर घर में बने खाद्य पदार्थो को ही खाना ज्यादा फायदेमंद होता है, ज्यादा वसा युक्त खाद्य पदार्थी को खाने से परहेज करना चाहिए क्युकि ये सब हार्ट के लिए नुकसानदायक हैं, भोजन में पौष्टिक तत्व, हरी सब्जियां इत्यादि का उपयोग बढ़ा देना चाहिए.

सिगरेट और शराब का सेवन ना  करें:

शराब पीने के समय, हृदय गति और रक्तचाप में अस्थायी वृद्धि हो सकती है, बहुत ज्यादा शराब  पीने से दिल की धड़कन बढ़ सकती है, उच्च रक्तचाप को बढ़ा देना , दिल की मांसपेशियों का कमजोर कर देना और दिल की धड़कन को कम कर सकती है, ये सभी कारण दिल का दौरा और स्ट्रोक का खतरा बढ़ा सकते हैं.

छोटे बच्चों की इम्यूनिटी को कैसे बढ़ाये, रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाने के उपाय

तनाव से दूर रहें:

बोलने में तो आसान है की तनाव से दूर रहना चाहिए जब कि ऐसा हो नहीं पाता, हम सभी को किसी न किसी चीज को लेकर तनाव (टेंशन) होता रहता है पर यही तनाव लम्बे समय के लिए हो तो आप बहुत सारी  बीमारियों को आमंत्रित कर रहे हो और इसमें से एक बीमारी हार्ट कि हो सकती है क्युकी तनाव अधिक होने पर शराब सिगरेट आदि का सेवन ज्यादा होने लगता है जिससे हार्ट कि प्रॉब्लम हो सकती है इसलिए तनाव से बहुत दूर रहना चाहिए.

योगा, प्राणायाम, एक्सरसाइज:

टहलना (Walking) - टहलने से आप हमेशा फिट रहते हैं इसलिए  लोग वाक  करें इससे खून का प्रवाह में तेजी आती है और हार्ट हैल्थी रहता है, इसलिए हार्ट के पेशेंट को टहलने कि सलाह दी जाती है.

स्ट्रेचिंग (Stretching) - स्टेचिंग करने से मांस पेंशियों में खून का प्रवाह बना रहता है इसलिए हार्ट पेशेंट को स्ट्रैचिंग करना चाहिए.

आप अपने दिल को स्वस्थ और फिट रखने के लिए नीचे दिए गए योग को  कर सकते हैं:

तड़ासन - 

Mountain Pose
ताड़ासन





त्रिकोणासन
त्रिकोणासन

Surya Namaskar Yoga
सूर्य नमस्कार


सेतुबंधासन
सेतुबंधासन
सेतुबंधासन
Share:

0 टिप्पणियाँ:

टिप्पणी पोस्ट करें

Thanks for your comment, if you have any quarry feel free to ask me.

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

About

Awareness and Solution for common problems, Benefits of Yoga and Pranayam.

Theme Support