Awareness and Solution for common problems, Benefits of Yoga and Pranayam.

गर्मी के सीजन में डेली खाने पीने की चीजो से अपनी इम्यूनिटी बढ़ाऐ, Basil Leafs Benefits

कोरोना वायरस का प्रकोप से पूरी दुनिया के लोग बहुत ही ज्यादा परेशान है और अब हम लोग भी बहुत तेजी से संक्रमित होते जा रहे है, कोरोना से पॉजिटिव लोग बहुत तेजी से बढ़ रहे है  इसलिए गवर्नमेंट द्वारा जारी की गयी एडवाइजरी का पालन करे, भीड़ में जाने से बचे, मास्क हमेशा पहने, बाहर कम  से कम  निकले, बाहर की चीजें खाने से बचे, जो भी सामान बाहर से लाए उसे अच्छी तरह से धुल कर रखें हो सके तो बाहर  के सामान को १४ घंटे बाद प्रयोग में लें, बार बार हाथ को साबुन से धुलते रहें, घर के बाहर हो तो sanitizer🧴🤲 का उपयोग करें
कोरोना वायरस की वजह से आज सब लोग अपनी इम्यूनिटी बढाने के अनेक तरीके अपना रहे है और अच्छा भी है क्युकी अगर आप की इम्यूनिटी स्ट्रांग है तो आप अनेक बीमारियो से बच सकते हैं. 
सभी को पता है कि कोरोना का कोई ईलाज नही है इसलिए सब लोग अपने इम्यूनिटी सिस्टम को boost करने के लिए अलग अलग तरीके का use कर रहे हैं. 
तो आज हम जानेंगे कि अपनी daily Deight मे क्या ले जिससे कि इम्यूनिटी सिस्टम स्ट्रांग हो और हम सब लोग कोरोना से बच सकें. 


फल (Fruits
फल का सेवन जादा करे आप चीकू,orange, पपीता, संतरे, अमरूद, strawberry🍓, kiwifruit etc. 
ये सब फल विटामिन c के बहुत बड़े source है इसलिए इसे अपनी daily diet में ले. 


नींबू पानी
नींबू पानी के फायदे के बारे मे तो सब जानते है कि नींबू में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है. इसके कारण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है. रोज सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है यह सबसे आसान और सस्ती इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक है.


शलाद
खाने के साथ शलाद को भरपूर मात्रा मे सेवन करें जैसे खीरा, ककड़ी, 🍅tomato आदि. 


हल्दी (Turmeric) 
हल्दी को सबसे सेहतमंद मसाला माना जाता है. हल्दी में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं. हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन मांसपेशियों की रक्षा करती है और उसे मजबूत बनाती है.


अदरक Ginger
अदरक में कई तरह के एंटी वायरल तत्व पाए जाते हैं इसलिए अपने खाने-पीने की चीजों में इसे जरूर शामिल करें. अदरक तुलसी काली मिर्च लौंग का काढा बनाकर पीने से भी लाभ होता है, 
शहद के साथ भी इसका सेवन करना चाहिए, 
दिन में 2-3 बार अदरक का सेवन करना चाहिए इससे आपका इम्यून सिस्टम अच्छा रहेगा.


तुलसी Basil
इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए तुलसी बहुत गुणकारी है. रोजाना सुबह ५-६ तुलसी के पत्तों को चबाकर खाना चाहिए,
3-4 काली मिर्च और एक चम्मच शहद के साथ इसका सेवन करने से आपके शरीर को रोगों से लड़ने की ताकत मिलती है और इम्यूनिटी बढ़ती है. 

Share:

Home remedies for injury, sprain, swelling

Home remedies for injury, sprain, swelling


It has often been seen that if someone gets hurt, he does not pay attention until he feels pain but no one should ignore it, some people eat pen killer when there is pain but pen killer can not  be permanent solution because if there is no proper treatment for the bone injury, then the pain of this injury starts again after some time and it will always be painful, so it is very important to treat it on priority. 



1-Heat (Therapy)
Heat therapy is a remedy that every person must do in injury sprain, it does not allow the clotting of the blood at the place of injury and repairs the damage to the muscles, so do heat therapy 10-15 minutes three times a day with cloth Or other heat therapy method for 4-5 days, this will give you 100℅ benefits.

Method of heat therapy- Burn a fire ( room heater or gas) and take a cloth of cotton, allow the cloth to light heat after heating the clothe put it on affected injured body part and heat the same, when the cloth cools down again Heat it again and let it heat again and do the same process for 10-15 minutes.

You can also use any other heat therapy.

2-By turmeric & limestone paste

Take two spoons turmeric and limestone (limestone must be equal to the 1 peas)take it in a bowl, add a little water and mix it with the help of a spoon and make it like a paste and make the paste a little lukewarm on the fire and Apply the paste on the place of injured body parts. 
If the injury is less then apply for 5 days and if the injury is sprained, apply it for 8-10 days.


Now-a-days anyone likes to eat the pill immediately if anything happens but they do not know about the harm of allopathic medicine, so people easily consume allopathic medicine for fast relief.
It my suggestion to everyone l take allopathic medicine in only critical cases. 

Share:

चोट, मोच, सूजन का उपचार, पैर में मोच आने पर घरेलू उपाय

चोट, मोच, सूजन का घरेलू उपचार


अक्सर यह देखा गया है कि किसी को चोट लग जाए तो वह ध्यान नही देता जब तक की उसे दर्द ना महसूस हो लेकिन किसी को भी इसे इग्नोर नही करना चाहिए, कुछ लोग तो दर्द होने पर पर पेन किलर खा लेते है लेकिन पेन किलर कोई परमानेंट सोल्युशन नही है क्यु की अगर हड्डी की चोट का कोई प्रॉपर् ट्रीटमेंट ना किया जाए तो इस चोट का दर्द कुछ समय बाद फिर से होने लगता है और हमेशा ऐसे ही कभी कभी दर्द होता रहेगा इसलिए इसका ईलाज करना बहुत ही जरूरी है.
Aayurved मे चोट मोच का बहुत ही कारगर उपाय बताया गया है जिसमे आपको कुछ खर्च नही करना है और घर पर ही आपकी चोट मोच पूरी तरह से ठीक हो जाएगी. 
तो आइए जानते है क्या क्या उपाय हम घर बैठे कर सकते है. 
पैर में मोच
पैर में मोच

हार्ट को हेल्थी कैसे बनायें, हार्ट को स्ट्रांग बनायें , Yoga & Exercise for Healthy Heart


१- सिकायी के द्वारा (Heat 🔥 Therapy) 
सिकायी एक ऐसा उपाय है जिसे हर ब्यक्ति को चोट मोच मे करना चाहिए क्यूकि सिकायी करने से चोट की जगह पर ब्लड की clotting नही होने देता है और damage mussecles को repair करता है इसलिए चोट मोच मे हमेशा दिन मे तीन बार १०-१५ मिनट तक ४-५ दिन तक कपड़े से सिकायी करें, इससे आपको १००℅ लाभ होगा. 




सिकायी का तरीका - आग जलाकर या रूम हीटर या गैस जला ले और cotton का कपडा ले, कपड़े को आग से थोड़ा दूर कर के कपड़े को हल्का गरम होने दे और उसी कपड़े से चोट मोच वाली जगह पर सिकायी करे, कपडा ठंडा होने पर फिर से गर्म कर के फिर से सिकायी करे और यही प्रक्रिया १०-१५ मिनट तक करे। 

आप अन्य कोई heat therapy का भी प्रयोग कर सकते हैं. 

२- हल्दी और चुने के द्वारा (Turmeric & Limestone) 
२ चम्मच हल्दी और मटर के दाने के बराबर चूना एक कटोरी मे ले, उसमे थोड़ा सा पानी डाले और चम्मच की सहायता से मिला ले और पेस्ट जैसा बना कर उसे आग पर हल्का सा गुनगुना कर ले हल्दी चुने का पेस्ट को सिर्फ हल्का गुनगुना गरम ही चोट मोच की जगह पर लेप करे. 
अगर चोट कम लगी हो तो ५ दिन तक लेप लगाए और चोट मोच जादा हो तो ८-१० दिन तक लेप लगाए. 
Tturmeric
हल्दी

हल्दी
हल्दी



आज कल कोई भी हो थोड़ा कुछ भी हो जाने पर तुरंत गोली खाना पसंद करता है पर उसको allopathic दवाई के नुकसान के बारे मे नही पता होता है इसलिए लोग fast relief के चक्कर मे आसानी से allopathic दवाई का  सेवन कर लेते है इसलिए हमारा सुझाव यह है कि बहुत मजबूरी मे ही allopathic दवाई का सेवन करे. 






Share:

How to improve digestive system, Ayurvedic medicine for acidity and constipation

Nowadays most of the people are upset with stomach problem, most of the people don't feel hungry, someone have gastric problem and someone have digestive problem. If your stomach is not clean properly in the morning, then you are troubled throughout the day and the problem of not having a clean stomach becomes a big problem and gives birth to many diseases, so everyone should be very concious about your stomach. Should be so that future diseases can be avoided.

Let's know some ways to keep the stomach clean ...


1 - Triphala Churna
Triphala churna is a mix of amla (Indian gooseberry) powder with two other fruits that are bibhitaki known as terminalia bellirica or bahera - and hartaki also known as harad to create Triphala.
Triphala powder is a very useful medicine for the stomach, generally people know Triphala as a preventive constipation. But apart from this, there are many benefits of consuming it. If you have any stomach related problem, then the consumption of Triphala powder will be very beneficial for you. Apart from stomach, eating it gives relief in many diseases. Doctors also advise that some people should not consume Triphala without medical advice.
Triphala powder increases resistance power of the body to fight from disease. 
त्रिफला चूर्ण
त्रिफला चूर्ण

हरीतकी,आंवला,बहेरा
हरीतकी,आंवला,बहेरा


2 - Amla (Gooseberry) 
The powder of amla is also very beneficial for the stomach, by consuming one teaspoon of amla powder with water, the toxic elements of the body come out, which keeps the stomach healthy.
आंवला

4 - Include fiber-rich foods such as sprouted gram etc. in your food.


5 - Wake up in the morning and drink 2 glass water on an empty stomach. 


6 - Pizza Burger Chole Bhature etc. are not good for body so avoid it. 


7 - Do Yoga, pranayam and exercise daily atleast 1/2 an hour. 






Share:

पेट को स्वस्थ रखने का उपाय, पेट को स्वस्थ कैसे रखें, Healthy Liver

पेट को स्वस्थ रखने का घरेलू उपाय
हैल्थी लिवर
लिवर

आज कल की भाग दौर जिंदगी मे जादातर लोग पेट की समस्या से परेशान है किसी को भूख नही लगती, किसी के पेट में हमेशा गैस बनी रहती है तो किसी का भोजन नही पचता. अगर आपका पेट सुबह ठीक से साफ नही होता तो आप दिन भर परेशान रहते है और धीरें धीरें पेट ना साफ होने की समस्या एक बहुत बड़ी समस्या बन जाती है और अनेको बीमारियो को जन्म देती है इसलिए सभी को अपने पेट को लेकर बहुत ही Concious होना चाहिए जिससे की आगे होने वाली बीमारियो से बचा जा सके. 
आइए जानते है पेट को साफ रखने के कुछ उपाय... 

मुँह के छालो का इलाज, Treatment of mouth ulcers


1-त्रिफला चूर्ण
त्रिफला चूर्ण पेट के लिए बहुत ही उपयोगी औषधि है आमतौर पर लोग त्रिफला को कब्ज निवारक के रूप में ही जानते हैं. लेकिन इसके अलावा भी इसका सेवन करने के कई फायदे हैं. यदि आपको किसी भी प्रकार की पेट संबंधी समस्या है तो आपके लिए त्रिफला चूर्ण का सेवन बहुत ही गुणकारी रहेगा. पेट के अलावा भी इसे खाने से कई रोगों में राहत मिलती है. चिकित्सकों की यह भी सलाह होती है कि कुछ लोगों को त्रिफला का सेवन बिना चिकित्सीय परामर्श के नहीं करना चाहिए.
त्रिफला चूर्ण रोग प्रतिरोधक छमता को बढ़ता है. 
शारीरिक दुर्बलता को दूर करता है. 
मेमोरी को स्ट्रांग करता है. 
हाइ ब्लड प्रेशर मे भी आराम देता है. 
त्रिफला चूर्ण
त्रिफला चूर्ण

हल्दी के फायदे - हल्दी का उपयोग करे और स्वस्थ रहे, Turmeric Benefit

2-आवला 
आवले का चूर्ण भी पेट के लिए बहुत ही फायदेमंद है, रोज एक चम्मच आवले के चूर्ण को पानी के साथ सेवन से शरीर के विषैले तत्व बाहर निकल जाते है जिससे पेट स्वस्थ रहता है. 
आंवला
आंवला

3-खाने मे  हमेशा आधे चम्मच जीरें के पाउडर को डाल कर खाना चाहिए इससे खाना आसानी से पच जाता है और सुबह पेट साफ हो जाता है. 
जीरा

4-अपने खाने मे फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ को सम्मिलित करे जैसे कि अंकुरित चना आदि. 
मूंग
चना,मूंग


5-सुबह उठ कर खाली पेट २ गिआस पानी पिये.

Water
पानी


6-पिज़्ज़ा बर्गर छोले भटूरे आदि बाहर की चीजे खाने से परहेज़ करे.


7-रोज योग प्राणायाम और Exercise करे. 
Yoga
योग






Share:

How to boost immune system, how to increase immunity home remedies,how to increase immunity power in body naturally 2020

Increase immunity and get rid of diseases.


In these days whose immune system is weak, he troubled by many diseases, so everyone should maintain their resistance system to fight decease,
Let us know how to increase resistance to disease.

By basil leaves 🌿

We use Basil (Tulsi) in many ways, but some people do not know that it is very useful in increasing antibacterial and disease resistant, eating 4-5 leaves of Tulsi daily in the morning on an empty stomach increases disease resistance.

By Tinospora cordifolia (Giloy?) 

Giloy is an herbal that is used in many diseases and one of the advantages in all of these is to increase disease resistance,
Drinking 4 teaspoons of Giloy Swaras in the morning and evening increases immunity and it also gets rid of every type of fever.


By spouted green pulse (moong, kidney bean) and spouted gram

Sprouted gram, moong increases disease resistance and makes humans strong, whose digestive power is low, they should be mixed with a little black salt and half a teaspoon of cumin powder. In the morning chew and eat. 

By salad

Eat plenty of salads, cucumber, chukkandar, cucumber, onion, cabbage.it will boost immunity system. 


Drink juice daily
Yoga and pranayama

Yoga and Pranayama boost immunity, there are many types of yoga to increase immunity,


1- Intense forward-bending pose (Uttanasan) 


2- Cobara pose (Bhujangasan) 


3-Triconasan - Extended triangle pose.


Share:

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय, इम्यूनिटी बढ़ाऐ और रोगों से छुटकारा पाए,

इम्यून सिस्टम मजबूत करने के उपाय, इम्यूनिटी बढ़ाऐ और रोगों से छुटकारा पाए

आज के दौर मे जिसकी रोग प्रतिरोधक छमता (immune system) कमजोर है वह अनेक बीमारी से परेशान रहता है इसलिए सभी को अपनी रोग प्रतिरोधक छमता को maintain रखना चाहिए, 
आइए जानते है की रोग प्रतिरोधक छमता को कैसे बढ़ा सकते है. 

अदरक, लहसुन और हल्दी के फायदे

तुलसी के पत्ते से इम्युनिटी बढ़ाए


दाँत दर्द का घरेलू उपचार और दांतों, मसूड़ों को स्वस्थ रखने के उपाय


तुलसी के का प्रयोग हम लोग बहुत प्रकार से करते है पर कुछ लोगों को यह नही पता है कि यह antibacterial और रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाने मे बहुत उपयोगी है, तुलसी के ४-५ पत्ते का रोज सुबह खाली पेट खाने से रोग  प्रतिरोधक छमता बढ़ती है. 

गिलोय से इम्युनिटी बढ़ाए

गिलोय
गिलोय

गिलोय एक ऐसे जड़ी बूटी है जिसका उपयोग बहुत सी बीमारी मे किया जाता है और इन सभी मे इसका एक फायदा रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाना है, 
गिलोय स्वरस को ४ चम्मच सुबह शाम पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है और इससे हर प्रकार के बुखार से भी छुटकारा मिलता है. 

कैंसर क्या है,  कैंसर के लक्षण, कैंसर होने के कारण और कैंसर से बचाव


अंकुरित चना, मूंग से इम्युनिटी बढ़ाए


अंकुरित चना, मूंग से रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ती है और मनुष्य को स्ट्रांग बनाता है, जिनकी पाचन शक्ति कम है उसे इसमे थोड़ा सा काला नमक और आधा चम्मच जीरा पाउडर मिला कर खाना चाहिए. 

शलाद के सेवन से इम्युनिटी बढ़ाए

शलाद
शलाद

खाने मे शलाद खीरा, chukkandar, ककड़ी, प्याज, पत्ता गोभी का भरपूर सेवन करे. 

जूस पिये


जूस भी आपको स्ट्रांग बनाता है और रोग प्रतिरोधक छमता भी बढ़ाता है. 


योग और प्राणायाम

योग और प्राणायाम से इम्यूनिटी boost होती है, इम्यूनिटी बढाने के लिए अनेक प्रकार के योग है, 

१- उत्तनासन 

आयुष

२- भुजंगासन (Cobara pose) 

आयुष

३- बालासन

आयुष

४- त्रिकोण आसन

आयुष


Share:

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

About

Awareness and Solution for common problems, Benefits of Yoga and Pranayam.

Theme Support